उत्तराखंडकोरोना वारियर्स

Uttarakhand Police : उत्त्तराखण्ड पुलिस के ये तीन बने मानवता की मिसाल

Uttarakhand Police : अल्मोड़ा (ब्यूरो)। पिछले कुछ दिनों में कोरोना के चलते लॉकडाउन ने जहां देशभर में रिश्तों के मायने बदल दिए हैं।वहीं आज भी मानवता और अनेपन कि मिसाल कायम करने वाले उत्त्तराखण्ड पुलिस के तीन वीरों ने मानवता की गजब मिसाल पेश की है।
मामला अल्मोड़ा के ग्राम बगड़ी इलाके का है लॉक डाउन के दौरान ड्यूटी करते चौकी प्रभारी फिरोज आलम, कांस्टेबल सरोज मेहता व अनुज त्यागी को एक बुजुर्ग महिला पैदल जाती दिखी। पूछताछ करने पर पता चला कि उक्त बुजुर्ग महिला अकेली है और वो लॉक डाउन के चलते खाद्य सामग्री की गहरी समस्या में है। पूछने पर ये भी पता चला कि वो वहां से 25 किलोमीटर दूर स्तिथ गाँव मल्ली किरौली द्वाराहाट की रहने वाली है। महिला की स्तिथि को भांपते हुए चौकी इंचार्ज फिरोज ने अपने दोनों कॉन्स्टेबलों के साथ उस बुजुर्ग असहाय महिला को सुरक्षित उसके निवास तक पहुचाने का निर्णय लिया जो शायद इतना आसान भी न था। क्योकि लॉक डाउन के चलते सभी पुलिस कर्मियों पर ड्यूटी का डबल प्रेशर है लेकिन मानवता का धर्म निभाते हुए फिरोज, सरोज और अनुज उस बुजुर्ग महिला को निजी वाहन से सुरक्षित उसके घर पहुचाने चल दिये। इतना ही नहीं महीने भर का राशन व अपने पास से कुछ धनराशि इकठ्ठी कर बुजुर्ग महिला को दी और कहा “अम्मा हमारे होते परेशान न हो, भविष्य में भी कोई जरूरत हो तो हमें बताना”।।
मित्र पुलिस का ऐसा मार्मिक पहलू देख क्षेत्र के लोग गदगद हो गए और अम्मा ने भी तीनो पुलिस कर्मियों को खूब आशीर्वाद दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button