Navratri 2021:जानिए कैसे करें कलश स्थापना के बाद चौकी की स्थापना,जानिए क्या है अमृत सिद्धि योग !

Know How To Set Up A Post After The Establishment Of The Urn,Know What Is Amrit Siddhi Yoga

Navratri 2021 :आज से नवरात्रा का आगाज हो चुका है. इस बार नवरात्र में अमृत सिद्धि योग बन रहा है.हिन्दू पंचांग के  अनुसार, नवरात्र के साथ ही नवसंवत्सर की शुरुआत भी होगी.

अमृत सिद्धि योग 

Navratri 2021 :अमृत सिद्धि योग भी शुभता प्रदान करने वाला योग है.अक्सर सर्वार्थ सिद्धि और अमृत सिद्धि योग एक साथ आते हैं. अमृत सिद्धि योग में जो कार्य किए जाते हैं.वे कार्य स्थायित्व प्रदान करते है और शुभता देते हैं. इसलिए सभी शुभ कार्यो के लिए इसका महत्व है.

कलश स्थापना मुहूर्त

मेष लग्न (चर लग्न) :- सुबह 6:02 से 7:38 बजे तक।

वृषभ लग्न (स्थिर लग्न):- सुबह 7:38 से 9:34 बजे तक।

अभिजित मुहूर्त :- सुबह 11:55 से दोपहर 12:43 बजे तक।

सिंह लग्न (स्थिर लग्न) :- दोपहर 14:07 से शाम 16:25 बजे तक।

Navratri 2021: जानिए कैसे करें कलश स्थापना के बाद चौकी की स्थापना-

Navratri 2021 : सबसे पहले एक लकड़ी की चौकी को गंगाजल या स्वच्छ जल से धोकर पवित्र कर लें।
2. अब इसे साफ कपड़े से पोछकर लाल कपड़ा बिछाएं।
3. चौकी के दाएं ओर कलश रखें !
4. चौकी पर मां दुर्गा की फोटो या प्रतिमा स्थापित करें।
5. माता रानी को लाल रंग की चुनरी ओढ़ाएं।
6. धूप-दीपक आदि जलाकर मां दुर्गा की पूजा करें।
7. नौ दिनों तक जलने वाली अखंड ज्योत माता रानी के सामने जलाएं।

Navratri 2021

यह भी पढ़े- देश में कोरोना वायरस का कहर,24 घंटे में 880 लोगों की मौत

8. देवी मां को तिलक लगाएं।
9. मां दुर्गा को चूड़ी, वस्त्र, सिंदूर, कुमकुम, पुष्प, हल्दी, रोली, सुहान का सामान अर्पित करें।
10. मां दु्र्गा को इत्र, फल और मिठाई अर्पित करें।
11. अब दुर्गा सप्तशती के पाठ देवी मां के स्तोत्र, सहस्रनाम आदि का पाठ करें।
12. मां दुर्गा की आरती उतारें।
13. अब वेदी पर बोए अनाज पर जल छिड़कें।
14. नवरात्रि के नौ दिन तक मां दुर्गा की पूजा-अर्चना करें। जौ पात्र में जल का छिड़काव करते रहें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button