देश

Ebola Virus Death – इबोला से 4 लोगों की मौत, कोरोना वायरस के साथ Ebola Virus का भी ख़तरा बढ़ा

तहलका डेस्क : दुनिया के कई बड़े देश अभी कोरोना Covid 19 का तोड़ नहीं ढूंढ सके एक नया वायरस भी ख़तरा बन कर मंडराने के ताक में तो नहीं? जी हैं ये हम आपको डराने के लिय नही चेताने के लिए आगाह कर रहे हैं दक्षिण अफ्रिका के पश्चिमी शहर पश्चिमी शहर मबंडाका में इबोला के छह नए मामले सामने आए हैं,  जबकि चार लोगों  की इससे मौत भी हो चुकी है. WHO ने साफ किया है कि कोरोना वायरस और इबोला में कोई संबंध नहीं है

कोरोना और Ebola Virus में कोई सम्बन्ध नहीं – WHO

जहां पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी से अभी उबर भी नहीं पाई थी कि अब इबोला वायरस ने भी दस्तक दे दी है. इबोला वायरस के डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कांगो में छह नए मामले सामने आए हैं. जिसकी पुष्टी स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ-साथ डब्ल्यूएचओ ने भी की है

Ebola Virus Symptoms
पश्चिमी शहर मबंडाका में इबोला के छह नए मामले

डब्ल्यूएचओ  ने बताया कि कांगो के स्वास्थ्य मंत्रालय ने इबोला वायरस के नए मामलों की जानकारी दी. जिस शहर में इबोला वायरस के मामले मिले हैं, वहां कोरोना वायरस का अब तक  कोई मामला अब तक सामने नहीं आया है

हालांकि पूरे कांगो में कोरोना वायरस के 3,000 के करीब मामले सामने आ चुके हैं. टेड्रोस ने ये भी बताया कि कोरोना और इबोला का आपस में  कोई संबंध नहीं है. हालांकि दोनों के लक्षणों में समानता है

इबोला के लक्षण : अचानक बुखार, कमजोरी, मांसपेशियों में दर्द
Chart Of Ebola virus  Disease & Symptoms

इबोला से संक्रमित व्यक्ति के शरीर से निकलने वाले तरल पदार्थ के संपर्क में आने से फैलता है.  इसके लक्षणों  में शुरू में अचानक बुखार, कमजोरी, मांसपेशियों में दर्द और गले में खराश  होना है. वहीं इसके बाद उल्टी होना डायरिया और कुछ मामलों में अंदरूनी और बाहरी रक्तस्राव होना भी इसके लक्षण हैं. ज्यादा रक्तस्राव से व्यक्ति की मौत का खतरा बढ़ जाता है  इंसानों में इसका संक्रमण संक्रमित जानवरों, जैसे चमगादड़, चिंपैंजी और हिरण आदि के संपर्क में आने से होता है

ebola virus

इस वायरस की पहचान सबसे पहले साल 1976 में की गई थी. इसके बाद मार्च 2014 में पश्चिमी अफ्रीका में इसके नए मामले पाए गए. इस वायरस से अब तक 2275 लोगों की मौत हो चुकी है. इस वायरस को इबोला के नाम से कांगो में ही जाना जाता है और कांगो में ही इस वायरस से सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button